इन MBA ग्रैजुएट्स का एक आविष्कार, ‘ग्रीन-चूल्हा’ 10 लाख घरों को धुएं से बचा रहा है

 इस प्रोडक्ट को डिज़ाइन करने से पहले इन युवाओं ने देश के उन सूदूर इलाकों का दौरा किया, जहां मिट्टी के चूल्हे इस्तेमाल होते हैं!उत्तर प्रदेश के एक छोटे से गांव (महज 302 लोगों की आबादी वाला) ममूरा में रहने वाली 36 साल प्रतिभा देवी बताती हैं,


इस लेख को हिंदी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।